नॉर्थ दिल्ली के बारापुला-नोएडा लिंक रोड इलाके में एक निर्माणाधीन फ्लाईओवर पर कार समेत गिरने से 42 साल के एक व्यक्ति की मौत हो गई। हादसा शुक्रवार को हुआ।

Read more : Delhi serial killer ravinder kumar : हैवान को जेल : 7 साल में 30 बच्चों का शिकार, रेप और हत्या के मामले में उम्रकैद,खौफनाक है इस सीरियल किलर की कहानी

इस मामले में पीडब्ल्यूडी की बड़ी लापरवाही सामने आई है, वाहनों को रोकने के लिए पीडब्ल्यूडी ने किसी तरह के बैरिकेड नहीं लगाए हुए हैं।बैरिकेड न होने के चलते चालक उसे फ्लाईओवर समझकर चढ़ गया और 30 फुट नीचे जाकर यमुना खादर में गिरा। मयूर विहार थाना पुलिस प्राथमिकी पंजीकृत कर मामले की जांच कर रही है।जगनदीप सिंह अपने परिवार के साथ कृष्णा नगर स्थित राधेपुरी में रहते थे। परिवार में पत्नी सुखविंदर कौर, छोटी बेटी व बुजुर्ग मां हैं। जगनदीप लाजपत नगर में एक निजी कंपनी में नौकरी करते थे।

जगनदीप निर्माणाधीन फ्लाईओवर पर चले गए

निर्माणाधीन फ्लाईओवर पर वाहन चालकों को जाने से रोकने के लिए पीडब्ल्यूडी ने बैरिकेड नहीं लगाए हैं, न ही कोई बोर्ड लगाया है। जिससे यह समझा जा सके कि फ्लाईओवर का निर्माण कार्य चल रहा है।जगनदीप निर्माणाधीन फ्लाईओवर पर चले गए, कुछ दूर जाकर फ्लाईओवर खत्म हो गया। वह कार समेत यमुना खादर में जा गिरे। इस मामले में पीडब्ल्यूडी का कहना है विभाग ने सुरक्षा के लिए बैरिकेड लगाए हुए थे, हो सकता है रात में किसी शरारती तत्व ने हटा दिए हों।