नेतन्याहू और गैंट्ज ने कड़वी राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता को भुलाकर देश के साथ आने का फैसला किया। देश में पिछले दिनों जो भी प्रदर्शन हुए, उसके लिए इनकी दुश्‍मनी को ही जिम्‍मेदार माना जाता है। गैंट्ज ने इजरायली नागरिकों से कहा कि नई ‘एकजुट’ है और हमास जैसी चीज को पृथ्वी से मिटा देने के लिए तैयार है। नेतन्याहू और नेशनल यूनिटी पार्टी के नेता और पूर्व रक्षा मंत्री गैंट्ज के साथ, नई अस्थायी कैबिनेट में रक्षा मंत्री योव गैलेंट भी शामिल होंगे। देश के मुख्य विपक्षी नेता येयर लैपिड गठबंधन में शामिल नहीं हुए हैं।

read more: Israel Hamas War :संघर्ष जारी: अब तक 2100 मौतें, इजरायली सेना को मिली कामयाबी, हवाई हमले में हमास के दो बड़े आतंकी ढेर

यहूदियों से मिले बाइडन
दूसरी ओर अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडन ने बुधवार को वाशिंगटन में यहूदी नेताओं की एक मीटिंग को संबोधित किया। इस मीटिंग में उन्होंने हमास के इजरायल पर हुए हमले को ‘होलोकोस्‍ट के बाद से यहूदियों के लिए सबसे खतरनाक दिन’ करार दिया। अमेरिकी राष्‍ट्रपति ने कहा कि शनिवार का हमला ‘यहूदियों के खिलाफ क्रूरता का अभियान’ था। बाइडन के शब्‍दों में, ‘हमले पर खामोशी मिलीभगत को बयां करती है। मैं चुप रहने से इनकार करता हूं।’ बाइडन ने बताया कि उन्‍होंने बुधवार को इजरायली पीएम नेतन्याहू के साथ फिर से बात की है। अमेरिका, इजरायल की सेनाओं को अतिरिक्त सैन्य सहायता में इजाफा कर रहा है।

इजरायल में बनी एकता बनाने पर सहमति

नेशनल यूनिटी पार्टी के नेता बेनी गैंट्ज ने पहले संकेत दिए थे कि वह इजरायल के युद्ध प्रयासों को बढ़ावा देने के लिए आपातकालीन एकता सरकार में बिना शर्त शामिल होने के इच्छुक हैं. उन्होंने एक विज्ञप्ति जारी कर एकता सरकार बनाने पर सहमति की जानकारी दी और इसे पीएम नेतन्याहू के साथ संयुक्त बयान करार दिया.