Abdul Kalam Death Anniversary: कोविंद गए, मुर्मू आईं… लेकिन दिलों पर आज भी राज कर रहे हैं कलाम

 

पूर्व राष्‍ट्रपति डॉ एपीजे अब्‍दुल कलाम  की लोगों के दिलों में अलग ही जगह है। बुधवार को उनकी 7वीं पुण्‍यतिथ‍ि  है। उनकी यादें अमिट हैं। मिसाइल मैन को याद करते हुए बड़ी संख्‍या में लोगों ने माइक्रोब्‍लॉगिंग साइट ट्विटर पर उन्‍हें श्रद्धांजलि दी। इससे कलाम ट्रेंड करने लगे। कलाम की पुण्यतिथि ऐसे समय पड़ी है जब सोमवार को द्रौपदी मुर्मू  ने राष्‍ट्रपति पद की शपथ ली है। वहीं, रामनाथ कोविंद की राष्‍ट्रपति भवन से विदाई हुई है। बेशक, आजादी के बाद देश को 15 राष्ट्रपति मिल चुके हैं। लेकिन, जिस तरह की छाप कलाम ने छोड़ी उसकी तुलना करना मुश्‍किल है। शायद यही वजह है कि उन्‍हें पीपुल्‍स प्रेसिडेंट कहा जाता था। अब्दुल कलाम देश के 11वें राष्ट्रपति थे। उन्होंने 2002 के राष्ट्रपति चुनाव में लक्ष्मी सहगल के खिलाफ चुनाव में 9,22,884 वोट प्राप्त कर जीत हासिल की थी। उनका कार्यकाल 25 जुलाई 2002 से 25 जुलाई 2007 तक रहा था।

 

27 जुलाई 2015 की शाम अब्दुल कलाम भारतीय प्रबंधन संस्थान शिलोंग में ‘रहने योग्य ग्रह’ पर एक व्याख्यान दे रहे थे जब उन्हें जोरदार कार्डियक अरेस्ट (दिल का दौरा) हुआ और ये बेहोश हो कर गिर पड़े। लगभग 6:30 बजे गंभीर हालत में इन्हें बेथानी अस्पताल में आईसीयू में ले जाया गया और दो घंटे के बाद इनकी मृत्यु की पुष्टि कर दी गई।

 अब्दुल कलाम के बारे में रोचक तथ्य

1. अब्दुल कलाम का पूरा नाम “अबुल पाकिर जैनुलआब्दीन अब्दुल कलाम” था।

2. अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 को भारत के तमिलनाडु राज्य के रामेश्वर शहर में हुआ था।

3. अब्दुल कलाम एक मध्यमवर्गीय परिवार से थे जिनके 5 भाई और 5 बहने थीं।

4. अब्दुल कलाम के पापा जैनुलाब्दीन मछुआरों को नाव किराए पर दिया करते थे।

5. अब्दुल कलाम का परिवार बड़ा होने की वजह से उनके पापा रोजमर्रा की सामान्य जरूरतें भी पूरी नहीं कर पाते थे। आर्थिक तंगी की वजह से कलाम आरंभिक शिक्षा को जारी रखने के लिए अखबार बेचने का काम करते थे।

6. अब्दुल कलाम गणित की कोचिंग के लिए 4:00 बजे उठ जाते थे।

7. अब्दुल कलाम को पढ़ाई करना बेहद पसंद था भौतिक और गणित उनके पसंदीदा विषय थे।

8. अब्दुल कलाम एक प्रसिद्ध लेखक भी थे। इनकी प्रसिद्ध पुस्तकें हैं– Wings of Fire, India 2020, Ignited Minds, Indomitable Spirit, Transcendence: My Spiritual Experiences with Pramukh Swamiji.

9. अब्दुल कलाम को 40 विश्वविद्यालयों और संस्थानों से मानद उपाधि प्राप्त है।

10. अब्दुल कलाम का सपना वायु सेना में फाइटर पायलट बनने का था लेकिन वह परीक्षा में 8 पदों के लिए नौवें स्थान पर थे, इसलिए पायलट नहीं बन पाए।

11. अब्दुल कलाम 1958 में रक्षा अनुसंधान और DRDO में शामिल हुए और बाद में ISRO में शामिल हो गए।

12. अब्दुल कलाम ने 1960 में अंतरिक्ष विज्ञान में स्नातक की उपाधि प्राप्त की।

13. अब्दुल कलाम ने भारत के लिए 1988 में पहली स्वदेशी पृथ्वी मिसाइल और 1989 में अग्नि मिसाइल का उत्पादन किया। इनके इस योगदान के कारण ही उन्हें मिसाइल मैन के रूप में भी जाना जाता है।

14. पोखरण के परमाणु परीक्षण के नेतृत्व में एपीजे अब्दुल कलाम की प्रमुख भूमिका थी।

15. 1992 से 1997 तक अब्दुल कलाम भारत के रक्षा मंत्री के वैज्ञानिक सलाहकार थे।

16. अब्दुल कलाम को भारत का सर्वोच्च पुरस्कार भारत रत्न समेत कई बड़े-बड़े पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है।

17. सन 2002 में सत्तारूढ़ पार्टी और सभी विपक्षी पार्टी के समर्थन से अब्दुल कलाम भारत के 11वें राष्ट्रपति चुने गए थे।

18. अब्दुल कलाम अपनी पूरी सैलरी दान कर देते थे।

19. अब्दुल कलाम अपने कार्यकाल में बेहद लोकप्रिय और मिलनसार व्यक्ति थे, इसलिए उन्हें ‘पीपल्स प्रेसिडेंट’ के रूप में भी जाना जाता था।

20. अब्दुल कलाम डॉ. विक्रम साराभाई को अपना गुरु मानते थे।

21. न्यूयॉर्क के हवई अड्डे पर कलाम को दो बार तक कर्मचारियों द्वारा विस्फोटक की जांच के लिए रोका गया था। भारत ने इस घटना का अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विरोध किया था।

22. अब्दुल कलाम को तमिल कविताएं लिखने और वीणा बजाने का शौक था।

23. अब्दुल कलाम से प्रेरित एक बॉलीवुड फिल्म भी बनी है जिसका नाम है – ‘I am Kalam’।

24. APJ Abdul Kalam 26 मई 2005 को स्विट्जरलैंड की यात्रा पर गए थे। स्विस सरकार ने प्रौद्योगिकी और विज्ञान में उनकी प्रसिद्ध उपलब्धियों के सम्मान में विज्ञान दिवस को मिसाइल मैन अब्दुल कलाम को समर्पित कर दिया।

25. अब्दुल कलाम का निधन 27 जुलाई 2015 को भारत के मेघालय राज्य के शिलांग शहर में एक व्याख्यान देने के दौरान हुआ।