BREAKING NEWS : बेमेतरा। भाजपा जिला अध्यक्ष के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं के द्वारा आज जिला पंचायत कार्यालय में तालाबंदी कर घेराव किया गया है। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने बताया कि 15 वे वित्त आयोग की राशि पर अघोषित रोक लगाने एवं भाजपा समर्थित जिला पंचायत सदस्य के क्षेत्र में विकास के नाम पर भेदभाव किए जाने तथा मूलभूत सुविधा उपलब्ध कराने के नाम पर जिला पंचायत प्रशासन के द्वारा मनमानी को लेकर जिला पंचायत के मुख्य द्वार पर तालाबंदी की गई है।

तालाबंदी का मुख्य विषय 15 वें वित्त की राशि पर कलेक्टर व जिला पंचायत सीईओ द्वारा अनावश्यक हस्तक्षेप पर रोका जाना व जिला पंचायत अध्यक्ष के प्रोटोकाल का उल्लंघन सहित अन्य मुद्दे शामिल है।10 दिन पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष सुनीता साहू, उपाध्यक्ष, सदस्य गोवेंद्र पटेल, कृषि स्थाई समिति के सदस्य अंजू बघेल के द्वारा अपर कलेक्टर अनिल वाजपेयी को ज्ञापन सौंपकर जिला पंचायत में तालाबंदी की चेतावनी दी थी। जिला पंचायत में बीते वित्तीय वर्ष से 15वें वित्त आयोग की राशि आ चुका है। जिसे सामान्य सभा की बैठक में अनुमोदन बाद मूलभूत समस्याओं एवं ग्राम पंचायतों के मांग के अनुरूप जिले में राशि आवंटित किया जाना है। जिला पंचायत सदस्यों के मध्य आपसी सामंजस्य नहीं बन पाने के कारण 15 वे वित्त आयोग की राशि का आज तक आवंटन नहीं किया जा सका है। राजनीतिक गतिरोध के चलते ग्रामीण विकास का कार्य पूरी तरह से गांवों में ठप है। इससे पंचायतों में केंद्र एवं राज्य सरकार से प्राप्त होने वाले अनुदान राशि से विकास कार्य स्वीकृत नहीं हो पा रहा है। इसके बाद भी 15वें वित्त आयोग की राशि के आवंटन को लेकर जिला पंचायत सदस्यों के मध्य आपसी समाज सामंजस्य नहीं बन पाया है। भाजपाईयो द्वारा जिला पंचायत के कार्यालय के सामने बेमेतरा जिला के तीनों विधायक का पुतला दहनकर जिला प्रशासन मुर्दाबाद का नारा लगाकर आक्रोशित भीड़ में झीना झपटी भी किया गया।