फतेहाबाद। CRIME NEWS : टोहाना के काली माता मंदिर रोड पर स्थित बाबा बालक नाथ मंदिर के संचालक बाबा अमरपुरी पर दर्जनों महिलाओं के साथ रेप के आरोप लगे थे। यह सब उस समय उजागर हुआ जब इस से संबंधित दर्जनों वीडियो लीक हुए थे। जलेबी बाबा की अलग-अलग महिलाओं के साथ करीब 120 अश्लील वीडियो सामने आई थी। इससे टोहाना क्षेत्र से साथ प्रदेश भी सन्न रह गया था। पीड़ित महिलाओं की शिकायत पर बाबा अमरपुरी को गिरफ्तार किया गया था। बताया जाता है कि तांत्रिक बनने से पहले अमरपुरी टोहाना के रेलवे रोड पर जलेबी की रेहड़ी लगाता था। इस वजह से उसे जलेबी वाला बाबा का नाम भी मिला था। जलेबी बाबा के नाम से यह केस देश-प्रदेश में काफी चर्चा में रहा था।

आपको बता दें बाबा को जुलाई 2018 में गिरफ्तार किया गया था। इस पर फतेहाबाद के तत्कालीन डीएसपी जोगिंदर शर्मा ने शिकंजा कसा था। जिन्होंने 2007 में भारत को पहला टी20 वर्ल्ड कप का दिलाने जोगिंदर शर्मा ने अहम योगदान निभाया था। धोनी की कैप्टेंसी में इंडियन क्रिकेट टीम के खिलाड़ी रहे जोगिंदर शर्मा ने 2007 में फाइनल मैच में आखिरी ओवर फेंका था और वह जीत के नायक बनकर उभरे थे। इस खिलाड़ी ने ही जलेबी बाबा को दबोचने में अहम भूमिका रही।

READ MORE : Kanjhawala Case के छठा आरोपी कार मालिक आशुतोष गिरफ्तार, एक अभी भी फरार 

जलेबी बाबा के कुछ वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए थे, जिसमें वह महिलाओं का रेप कर रहा था। फतेहाबाद पुलिस को एक मुखबिर के जरिए इसकी लोकेशन की जानकारी मिली थी और फिर डीएसपी जोगिंदर शर्मा की टीम ने अमरपुरी आश्रम से उसे धर दबोचा गया।

आश्रम के नाम पर अय्याशी का अड्डा

लोगों की घरेलू परेशानियां दूर करने का दावा करते हुए, इसने अपना एक आश्रम बनाया- अमरपुरी आश्रम में अपनी अय्याशी के लिए उसने आश्रम के बेसमेंट में कुछ खुफिया कमरे बनवाए हुए थे. घरेलू और निजी परेशानियां दूर करने के बहाने वह महिलाओं को टारगेट करता था. फिर उसी खुफिया कमरे में बुलाकर उन्हें नशीला पदार्थ खिला देता था.

READ MORE :CRIME NEWS : रेलवे सुरक्षा बल ने बीते साल 96 टिकट दलालों को किया गिरफ्तार

महिलाएं बेहोश हो जातीं तो फिर वो उनका न्यूड वीडिया बना लेता था और उनके साथ रेप करता था. इतना ही नहीं, बल्कि उन वीडियो को वायरल करने की भी धमकी देकर वह महिलाओं से पैसों की भी डिमांड करता था. जो महिलाएं पैसे नहीं दे पातीं, उनके साथ फिर से संबंध बनाने का दबाव बनाता था।

ऐसे दबोचा गया था बाबा

डीएसपी जोगिंदर शर्मा ने जलेबी बाबा की गिरफ्तारी की पूरी कहानी मीडिया को बताई थी. उन्होंने बताया था कि बाबा के खिलाफ किसी स्थानीय ने शिकायत नहीं की थी. एक मुखबिर ने खुफिया तरीके से इस बाबा की अश्लील वीडियोज के बारे में पुलिस को सूचना दी थी. पुलिस को उसने एक CD दिया था। जिसमें कई महिलाओं के साथ रेप करते बाबा की अलग-अलग वीडियो थी.

बाबा के वीडियोज इंटरनेट और सोशल मीडिया के जरिये लोगों के बीच घूम रहे थे. मामला संगीन था, पुलिस ने बिना देर किए हरकत में आयीं। और तहकीकात शुरू का दी। बाबा के आश्रम में दबिश डाल दी. बाबा हाथों-हाथ गिरफ्तार हो गया. पुलिस ने उस पर यौन शोषण और रेप की धाराओं के अलावा अश्लील वीडियो बनाने के लिए पुलिस ने आईटी एक्ट की धाराएं भी जोड़ी. अब जलेबी बाबा को फतेहाबाद फास्ट ट्रैक कोर्ट ने महिलाओं से रेप का दोषी करार दिया है. उसे 7 जनवरी को सजा सुनाई जाएगी।