अंबिकापुर। CG NEWS : अंबिकापुर में परीक्षा के दौरान सामूहिक नकल का प्रकरण आया है। यहाँ 10वीं की बोर्ड परीक्षा में सामूहिक नकल का खुलासा तब हुआ, जब डीईओ ने स्कूल में जाकर दबिश दी। इस मामले में केद्राध्यक्ष, सहायक केंद्राध्यक्ष व क्लर्क को हटा दिया गया है। लमगांव शासकीय स्कूल का मामला है।

दरअसल, जिला शिक्षा अधिकारी को सामूहिक नकल की सूचना मिली थी, जिसके बाद वो फ्लाइंग स्क्वाड के साथ इंस्पेक्शन पर पहुंचे। इंस्पेक्शन के दौरान सामूहिक नकल का खुलासा हुआ। सबूत के तौर पर केंद्राध्यक्ष, सामूहिक केंद्राध्यक्ष व क्लर्क के पास नकल की पर्ची और कुछ किताब के पन्ने भी मिले हैं। 10वीं बोर्ड परीक्षा में गणित का पर्चा था, उसी परीक्षा में नकल का खुलासा हुआ। केंद्राध्यक्ष शिव शंकर प्रजापति की नकल कराने में संलिप्तता मिली है।

DEO संजय गुहा ने केंद्राध्यक्ष शिव शंकर प्रजापति, सहायक केंद्र अध्यक्ष और क्लर्क तीनों को हटा दिया गया है। इधर, जिला शिक्षा अधिकारी ने परीक्षा केंद्र में दोबारा से परीक्षा लिए जाने को लेकर माध्यमिक शिक्षा मंडल के सचिव को पत्र लिखा है। जानकारी के मुताबिक लमगांव हायर सेकेंडरी स्कूल में दसवीं और बारहवीं बोर्ड की परीक्षा का सेंटर बनाया गया था। इस परीक्षा केंद्र में दसवीं बोर्ड के कुल 69 परीक्षार्थी परीक्षा दे रहे थे। इंस्पेक्शन के दौरान परीक्षा केंद्र में केंद्राध्यक्ष के अलावा सहायक केंद्राध्यक्ष और क्लर्क तीनों के पास अलग-अलग सेट की नकल पर्ची भी मिली है।

अचानक से डीईओ को देखने के बाद परीक्षा केंद्र में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में चीट को छुपाया जाने लगा, लेकिन अधिकारियों की टीम ने मौके से पर्ची को बरामद किया है। तलाशी के दौरान केंद्राध्यक्ष सहित दो अन्य के पास पर्ची और किताब के पन्ने भी बरामद किए गए हैं। माना जा रहा है कि जल्द ही इस मामले में बड़ी कार्रवाई हो सकती है।