भोपाल । पूर्व केंद्रीय मंत्री और मध्य प्रदेश सराकर में मंत्री रहे सरताज सिंह (Sartaj Singh) का गुरुवार (12 अक्टूबर) को 85 साल की उम्र में निधन हो गया।

read more : MP NEWS : मुझसे डरती है कांग्रेस मेरे मरने की दुआ कर रही, मेरा श्राद्ध करवा रही : CM शिवराज

आपको बता दे उन्होंने भोपाल में अंतिम सांस ली है. सरताज सिंह 5 बार सांसद और दो विधायक बार विधायक रहे हैं. अटल बिहारी वाजपेयी की 13 दिन की सरकार में वे केन्द्रीय मंत्री भी रहे थे।

सरताज सिंह को लोग बाबू जी के नाम से पहचाने जाते थे
पांच बार सांसद और दो बार विधायक रहे सरताज सिंह को लोग बाबू जी के नाम से पहचाने जाते थे। 2018 के विधानसभा चुनाव में उनकी परंपरागत सीट सिवनी मालवा से टिकट न मिलने के बाद वे कांग्रेस में शामिल हो गए थे। इसके बाद उन्होंने कांग्रेस के टिकट पर नर्मदापुरम सीट से चुनाव लड़ा था, लेकिन अपने शिष्य और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष सीतासरन शर्मा से उन्हें हार मिली थी। बाद में उन्होंने फिर कांग्रेस छोड़ भाजपा का दामन थाम लिया था।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने  दुख जताया

पूर्व मंत्री सरताज सिंह के निधन पर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने भी  दुख जताया है । ट्विटर पर पोस्ट करते हुए उन्होंने कहा सरताज सिंह जी के निधन का समाचार अत्यंत दुखद है: वीडी