गाय के गोबर और गोमूत्र की कई उपयोगिताएं हैं. नई वैज्ञानिक रिसर्च में अब इससे रॉकेट के ईंधन बनाने की तैयारी शुरू हो गई है. एक जापानी रसायन निर्माता कंपनी ने गाय के अपशिष्ट से तरल बायोमीथेन का उत्पादन करने की योजना बनाई है, जिसे रॉकेट ईंधन के रूप में उपयोग किया जाएगा

read more : Rocketry Movie Review : एक्टर ही नहीं बतौर डायरेक्टर भी आर माधवन ने किया जबरदस्त काम, हिला डालेगी Nambi Narayanan की ये कहानी

रिपोर्ट के अनुसार एयर वाटर इंक कंपनी ने सोमवार को कहा कि वह आगामी पतझड़ के मौसम के दौरान प्रयोगात्मक परीक्षण शुरू करने की योजना बना रही है. परिणामस्वरूप तरल बायोमीथेन जापानी अंतरिक्ष स्टार्टअप फर्म, इंटरस्टेलर टेक्नोलॉजीज द्वारा निर्मित रॉकेट में प्रयोग किया जाएगा, जिसका मुख्यालय जापान के उत्तरी द्वीप होक्काइडो पर है.

ताइकी शहर के डेयरी फार्म पर हो रहा प्रयोग
एयर वाटर इंक कंपनी 2021 से होक्काइडो द्वीप पर तरल बायोमीथेन के उत्पादन में सक्रिय रूप से लगी हुई है. इस प्रक्रिया में ताइकी शहर में एक डेयरी फार्म पर स्थित एक विशेष संयंत्र में गोबर और मूत्र शामिल किया जाता है। कारखाने के भीतर उत्पाद से मीथेन को अलग करने के लिए सावधानीपूर्वक प्रक्रियाओं को नियोजित किया जाता है।  इसके बाद इसे तरल बायोमेथेन में बदलने के लिए शीतलन प्रक्रिया होती है. यह पहल डेयरी किसानों के लिए अपशिष्ट प्रबंधन और एयरोस्पेस क्षेत्र में नवीकरणीय ईंधन के उपयोग दोनों में क्रांति लाने की क्षमता रखती है।